Home / Node / बिटिया की पढ़ाई-लिखाई और विदाई तक सरकार हर कदम पर साथ- रघुवर दास

बिटिया की पढ़ाई-लिखाई और विदाई तक सरकार हर कदम पर साथ- रघुवर दास

माँ तू मुझे जगत में आने दे, मैं तेरा ही तो अंश हूँ। माँ के गर्भ में पल रही सृष्टि की जननी बेटी की मन को छू लेने वाली यह उक्ति है। यह महज एक मार्मिक कविता नहीं बल्कि इसकी भावना को जन आंदोलन बनाना है। ताकि कन्या भ्रूण हत्या रुके और भारतीय संस्कृति में जिस नारी को शक्ति का स्थान देकर पूजा जाता है वह इस धरा पर अवतरित हो। वह आगे बढ़े, उत्कृष्ट बनें। सरकार यही चाहती है। यही वजह रही कि मुख्यमंत्री सुकन्या योजना को राज्य में लागू किया गया। इस कार्य में जन सहभागिता जरूरी है ताकि हर घर की बच्ची इस योजना से आच्छादित हो सके। उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने लातेहार में आयोजित ‘मुख्यमंत्री सुकन्या योजना’ जागरूकता समारोह में कही।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश प्रधानमंत्री ने पानीपत से दिया था-

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि लड़का और लड़की के लिंगानुपात को समान करने के उद्देश्य से बेटी बचाओ-बेटी पढाओ का संदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पानीपत से दिया था। राज्य सरकार उस बेटी के संरक्षण और उसके संवर्धन के लिए पहले पढ़ाई, फिर विदाई की बात करती है। सरकार कृतसंकल्पित है हर उस अंत्योदय और अनाथ बच्चियों के जन्म से लेकर विदाई तक सहारा बनने के लिए।

भ्रूण परीक्षण करने वाले पाप कर रहे हैं, कानून के दायरे में आएंगे-

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के समय में आदिवासी समाज कन्या भ्रूण हत्या से दूर है। जबकि शहर में बसने वाले पढ़े लिखे लोग अल्ट्रासाउंड के माध्यम से आने वाली कन्या की हत्या कर रहे हैं। भ्रूण परीक्षण करने वाले डॉक्टर यह पाप ना करें। अन्यथा सरकार आपके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करेगी।

महिलाएं विकास की धुरी, पोल्ट्री फेडरेशन का गठन 1 माह में-

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाएं विकास की धुरी हैं। महिलाओं को धुआं से मुक्ति प्रदान करने के लिए 4 वर्ष में 27 लाख गैस सिलेण्डर और चूल्हा का वितरण किया गया। तीसरे चरण में 15 लाख गैस सिलेण्डर और चूल्हा का वितरण कार्य 23 फरवरी 2019 से प्रारम्भ होगा। जिसके तहत 3 हजार सिलेण्डर और चूल्हा राज्य की महिलाओं को एक साथ प्रदान किया जाएगा। महिलाओं के स्वावलंबन हेतु 13 अनुसूचित क्षेत्र में पोल्ट्री फेडरेशन का गठन 1 माह के अंदर होगा ताकि अंडे का उत्पादन कर महिलाएं स्वावलंबी बन सकें।

3 माह में 57 लाख परिवारों तक पहुंचेगा गोल्डन कार्ड-

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखण्ड हर क्षेत्र में विकास की गाथा लिख रहा है। घर-घर बिजली, पेयजल और स्वास्थ्य सुविधा पहुंचाने का कार्य हो रहा है। संसार की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत के तहत अब तक राज्य में 16 लाख गोल्डन कार्ड का वितरण हो चुका है। 3 माह के अंदर 57 लाख परिवार तक गोल्डन कार्ड पहुंच जाएगा। ताकि गरीब नामित अस्पताल में अपना इलाज करा सकें।

14 साल तक टाना भगतों की सुध किसी ने नहीं ली, गांव सुखी होगा तो राज्य सुखी होगा-

मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासियों की सबसे अधिक जमीन लूटने का कार्य आदिवासी नामधारी पार्टी ने किया है। महज निजी स्वार्थ के लिए आदिवासियों का उपयोग किया गया। आजादी की लड़ाई में योगदान देने वाले टाना भगतों की सुध किसी ने 14 वर्ष तक नहीं ली। अब राज्य सरकार टाना भगतों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर देगी। आज टाना भगतों के आर्थिक स्वावलंबन हेतु दुधारू गाय का वितरण कर आत्मिक खुशी हुई। 12 सौ आदिवासी और दलित गांव में पानी की सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य आरंभ हो चुका है। अप्रैल माह में गांव में ही पानी मिले यह सुनिश्चित किया जा रहा है।

किसानों को डबल फायदा, डबल इंजन की सरकार देगी-

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखण्ड गांव में बसता है और वहां बसते हैं हमारे किसान। जिनकी सुध केंद्र और राज्य सरकार ने ली। केंद्र सरकार की योजना के तहत किसानों को प्रति एकड़ 6 हजार रुपये प्रदान करेगी। वहीं राज्य सरकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत किसान भाई बहनों को प्रति एकड़ पांच हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के दायरे में 5 एकड़ और एक एकड़ से कम जमीन के किसान आएंगे। उक्त अनुदान की राशि किसानों को खाद, बीज व अन्य कृषि कार्य हेतु उपयोगी चीज खरीद सकेंगे। इस योजना पर सरकार 2 हजार 250 करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस तरह झारखण्ड के एक किसान को कम से कम 11 हजार रुपये प्रति एकड़ किसान को मई माह से लाभ मिलेगा। इस योजना के दायरे में राज्य के 22 लाख किसान आएंगे। ऐसे में किसानों को डबल फायदा डबल इंजन की सरकार देगी।

अपनी संस्कृति बचाएं, सरकार सभी धर्म का सम्मान करती है-

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ विदेशी ताकतें आदिवासियों की संस्कृति, बिरसा मुण्डा, सिदो-कान्हू की संस्कृति को बर्बाद करना चाहते हैं। ऐसी शक्तियों से मिलकर मुकाबला करना है। विदेशी शक्ति ने आदिवासियों नकी जमीन को लूटा है। हमें नीलाम्बर-पीताम्बर की संस्कृति को अक्षुण्ण रखना है। सरकार सभी धर्मों का सम्मान करती है लेकिन लोभ देकर धर्म से छेड़छाड़ सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी।

4 वर्ष में 1500 करोड़ की योजना लातेहार में लागू हुई-

लातेहार विधायक प्रकाश राम ने कहा कि 4 साल में जो विकास के कार्य हुए वह पूर्व में नहीं हुए। 4 साल में 1500 करोड़ की योजना लातेहार में लागू की गई। सरकार हमेशा से संवेदनशील रही है।

लातेहार में शांति विकास का प्रतिफल-

माणिका विधायक हरे कृष्ण सिंह ने कहा कि आज लातेहार में शांति है, यह विकास का प्रतिफल है। सरकार की सोच सिर्फ विकास है। मुख्यमंत्री जी का प्रयास है कि योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुंचे।

इस अवसर ओर सचिव समाज कल्याण एवं बाल विकास अमिताभ कौशल ने सुकन्या योजना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। वहीं लातेहार के उपायुक्त राजीव कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। कार्यक्रम में प्रमंडलीय आयुक्त, उप विकास आयुक्त, आरक्षी अधीक्षक समेत सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।