Home / Node / ‘बच्चों आप पढ़ो, आगे बढ़ो और स्वावलंबी बनो, रघुवर दास आपके साथ खड़ा है’

‘बच्चों आप पढ़ो, आगे बढ़ो और स्वावलंबी बनो, रघुवर दास आपके साथ खड़ा है’

छोटा नागपुर के गिरिडीह में आयोजित प्रमंडल स्तरीय मुख्यमंत्री सुकन्या योजना जागरुकता कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि बच्चियों आप पढ़ो, आगे बढ़ो और स्वावलंबी बनो। रघुवर दास आपके साथ है। आप से किसी प्रकार का भेदभाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कोई परेशानी हो तो 181 में बताएं आपकी समस्या के निराकरण का हर संभव प्रयास होगा। मातृ शक्ति, नारी शक्ति की हम पूजा करते हैं उनका सम्मान करते हैं तो फिर भ्रूण हत्या क्यों, लड़की से भेदभाव क्यों। यह स्त्री ही सृष्टि है वह नहीं होगी तो सृष्टि का क्या होगा। इस सोच के साथ मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का शुभारंभ हुआ है। क्योंकि सरकार का मानना है कि अगर देश, राज्य, समाज और परिवार को आगे बढ़ाना है तो नारी शक्ति को आगे बढ़ाते हुए उन्हें सशक्त करना होगा। हमें इस राज्य से बाल विवाह, भ्रूण हत्या, बच्चियों में शिक्षा की असमानता को हटाना है।

अल्ट्रासाउंड करने वाले सचेत हो जाएं, अन्यथा जेल जाना होगा-

मुख्यमंत्री ने कहा कि अल्ट्रासाउंड कर लिंग के संबंध में जानकारी उपलब्ध कराने वाले चिकित्सक सचेत हो जाएं। आप यह पाप ना करें। अन्यथा आपको जेल जाना होगा। इस संबंध में स्वास्थ्य सचिव को निदेश दिया गया है ऐसा करने वाले अस्पताल का निबंधन रद्द किया जाएगा।

बजट किसान, गरीब और मजदूरों को समर्पित, राज्य और केंद सरकार देगी किसानों को राशि-

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूनियन बजट किसान, गरीब, मजदूर और मध्यम वर्ग को समर्पित है। आजादी के बाद सहयोगात्मक और रचनात्मक बजट पेश किया गया। संगठित मजदूरों के साथ असंगठित मजदूरों की चिंता केंद्र सरकार ने की। अब असंगठित मजदूरों को 100 रुपये प्रति महीना और 60 साल की उम्र में 3 हजार का पेंशन सुनिश्चित हुआ। वहीं किसानों को प्रधानमंत्री कृषि सम्मान योजना के तहत प्रति एकड़ 6 हजार रुपये उनके कृषि कार्य हेतु दिया जाएगा। जबकि राज्य सरकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत भी प्रति एकड़ 5 हजार रुपये किसानों को देगी। अब 1 एकड़ भूमि वाले किसान को न्यूनतम 11 हजार और 5 एकड़ भूमि वाले किसान को अधिकतम 31 हजार रुपये दिया जाएगा। अन्नदाता के चेहरे पर मुस्कान लाना हमारा उद्देश्य है।

अपनी बेटियों का निबंधन स्कूल में कराएं, सरकार 1 बेटी को 70 हजार देगी-

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य की योजनाओं से आम लोगों को आच्छादित करना है। राज्य की बेटियों के लिए मुख्यमंत्री सुकन्या योजना लागू हो गई है। अभिभावक अपनी बच्चियों का निबंधन स्कूल में कराएं। सरकार 1 बेटी के जन्म से लेकर शादी तक 70 हजार रुपये देगी। साथ ही मुख्यमंत्री ने अभिभावकों से अपील की है कि इस योजना की जानकारी आप भी अन्य लोगों को दें। ताकि राज्य की कोई बच्ची इस योजना से अछूती ना रहे।

विधवा बहनों को अब 1 हजार पेंशन और आवास भी-

मुख्यमंत्री ने कहा की वर्तमान वित्तिय वर्ष में राज्य की विधवा बहनों की पेंशन राशि में 400 रुपये की वृद्धि की गई है। अब 600 की जगह 1 हजार रुपये विधवा बहनों को मिलेगा। साथ ही आवास योजना के तहत उन्हें आवास भी सरकार उपलब्ध कराएगी। इस योजना का हर वर्ग की विधवा बहनों को शामिल किया गया है। राज्य के दिव्यांगों को भी पेंशन देने की व्यवस्था की गई है।

14 साल में 18 हजार SHG, 4 साल में 1 लाख स्वयं सहायता समूहों का गठन-

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आजादी के बाद से देश में शासन करने वालों ने गरीबों की सुध नहीं ली। विगत 4 वर्ष के केंद्र सरकार गरीबों, वंचितों, शोषितों, किसानों, महिलाओं, युवाओं के प्रति समर्पित है। सरकार की योजनाओं में किसी तरह का भेदभाव नहीं किया जा रहा है। हर वर्ग के लोग योजनाओं से लाभान्वित हो रहे हैं। इन योजनाओं ने नारी शक्ति को विशेष बल दिया गया है। इसका प्रमाण है कि राज्य में जहाँ 14 साल में मात्र 18 हजार महिला समूह का गठन किया, वहीं महिला सशक्तिकरण की दिशा में झारखण्ड में 1 लाख से ज्यादा महिला समूह का गठन किया गया। यह प्रदर्शित करता है सरकार नारी शक्ति का सशक्तिकरण के प्रति कितना संवेदनशील है। उत्तरी छोटानागपुर की महिलाएं भी SHG का गठन करें सरकार आपको सहयोग करेगी।

जन्म से शादी तक सम्मान देने का प्रयास-

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना जागरुकता समारोह में मंत्री अमर कुमार बाउरी ने कहा कि मुख्यमंत्री सुकन्या योजना बच्ची के जन्म से लेकर शादी तक सम्मान देने का प्रयास है। यह योजना नारी सशक्तिकरण की दिशा में सहायक होगा। आज 50 लाख तक कि संपत्ति का निबंधन मात्र 1 रुपये में हो रहा है। अब महिलाएँ मालकिन बन रहीं हैं।

अंतिम व्यक्ति तक लाभ देने का लक्ष्य-

गिरिडीह के सांसद रविन्द्र पांडेय ने कहा कि सरकार की योजनाओं का लाभ सभी को मिल रहा है। मुख्यमंत्री सुकन्या योजना के तहत बच्चियों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखा गया है।

यह सोच बदलाव लाएगा-

विधायक गिरिडीह निर्भय शाहबादी ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा प्रारम्भ की गई यह योजना नारी शक्ति को सशक्त करेगा। योजना की वजह से महिलाओं के उत्थान में, उनके प्रति सोच में बदलाव लाएगा।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने सांकेतिक तौर पर गिरिडीह की जानकी कुमारी, सोना कुमारी, मीरा कुमारी, आंचल कुमारी, मुस्कान कुमारी, सोनाली कुमारी और श्रुति कुमारी एवं चतरा की अंजली कुमारी एवं कोयल कुमारी को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का प्रमाणपत्र प्रदान किया। इस अवसर पर विधायक केदार हाजरा, विधायक नागेंद्र महतो, सचिव बाल विकास एवं समाज कल्याण अमिताभ कौशल, निदेशक समाज कल्याण, उपायुक्त गिरिडीह राजेश पाठक, आरक्षी अधीक्षक एवं अन्य उपस्थित थे।