Home / Node / अटल जी न होते तो झारखण्ड न होता: रघुवर दास

अटल जी न होते तो झारखण्ड न होता: रघुवर दास

झारखण्ड सरकार भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी की याद में योजना और स्मारक बनाने पर विचार कर रही है ताकि आने वाली पीढ़ी उन्हें, उनके विचारों के बारे में जान सके। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी झारखण्ड के जनक हैं। वे नहीं होते तो झारखण्ड अलग राज्य नहीं बनता। अब राज्य की सवा तीन करोड़ जनता और राज्य सरकार का यह कर्तव्य बनता है कि उनके लिए कुछ विशेष करना चाहिए। झारखण्ड अटल जी का ऋणी है, उनकी अस्थियां राज्य की 4-5 प्रमुख नदियों में प्रवाहित की जाएंगी।

 

"पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी का जाना अपूरणीय क्षति है। वे सदैव हमारे आदर्श रहेंगे। वे आज हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन उनके आदर्श और विचार हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत रहेंगे।"